Artificial Intelligence (AI) क्या है? What Is Artificial Intelligence In Hindi #2021

Artificial Intelligence यानी कृत्रिम बुद्धिमत्ता। कृत्रिम मतलब खुद इंसान द्वारा बनायीं गयी जो प्राकृतिक न हो और बुद्धिमत्ता मतलब होशियारी अर्थात एक ऐसा Simulation जिसमे मशीनों को बुद्धिमत्ता दी जाती है जिससे वह इंसानों की तरह सोच सकें और अपने फैसले खुद ले सके। अगर सरल शब्दों में बात करें तो एक ऐसा process है जिसके द्वारा हम मशीनों को intelligence देने का कार्य करते हैं और intelligence वह गुण है जो किसी object को अपने वातावरण में उचित और दूरदर्शिता के साथ कार्य करने के लिए सक्षम बनाता है।

Artificial intelligence in hindi

एक इंसानी दिमाग किसी भी Problem को कई चरणों में Solve करता है जैसे पहले वह Learn करता है उसके बाद process करता है उसके बाद निर्णय लेता है कि उसे क्या करना चाहिए और फिर उसके बाद उस प्रॉब्लम को So;ve करता है। ठीक इसी प्रक्रिया से मशीनों को भी Intelligence दी जाती है लेकिन यह सब computer system के द्वारा किया जाता है।

Table of Contents

Artificial Intelligence के कुछ उदाहरण ( Some example for Artificial Intelligence )

हम आपको के कुछ उदाहरण दे रहे हैं जहाँ इसका बहुत सूंदर उपयोग हो रहा है।

1- chatbots ( चैट बोट्स )

आज आप खुद देखते हैं कि किस प्रकार से कई Socail media platform इसका बहुत अच्छे से इस्तेमाल कर रहे हैं। Chatbots बहुत तेज़ी से अपने Customer की समस्याओं को समझकर अधिक कुशलता से उनको जवाब देते हैं। यह सब Artificial Intelligence का ही कमाल है।

2- Ricommendation Engines ( रिकमंडेशन इंजन )

यह एक ऐसा Recommended software होता है जो किसी website कस्टमर को उसके Interest को देखते हुए उससे सम्बंधित डाटा का विश्लेषण करता है और customer को सटीक सुझाव देता है।

3- Intelligent assistant ( इंटेलिजेंट अस्सिटेंट )

यह user की सेवा या उसके कार्यों के लिए Artificial Intelligence का प्रयोग करता है और आप इससे भी भली-भांति परिचित ही हैं। सिरी और एलेक्सा से तो आप परिचित है यह Intelligent assistant का ही उदाहरण हैं।

Also Helpful:

Artificial Intelligence के प्रकार ( The types of Artificial Intelligence )

Artificial Intelligence को हम मुख्य रूप से तीन प्रकार के रूप में वर्गीकृत कर सकते हैं। Type 1, Type 2 तथा Type 3 आइये, इसे विस्तार से समझने की कोशिश करते हैं।

Type 1 Artificial Intelligence

इसे भी हम तीन रूपों में देखते हैं।

  1. Artificial Narrow Intelligence ( ANI )
  2. Artificial General Intelligence ( AGI )
  3. Artificial Super Intelligence ( ASI )

1 Artificial Narrow Intelligence ( ANI ) क्या है ?

यह system किसी एक प्रॉब्लम को हल करने के लिए बनाये जाते हैं और इनके पास क्षमताएं कम होती हैं यह एक ही कार्य को अधिक सटीकता से करते हैं जैसे मौसम की भविष्यवाणी करना या webpage को क्रॉल करना आदि।

2 Artificial General Intelligence ( AGI ) क्या है ?

ऐसी मशीने जो विभिन्न कार्यों को पूरी दक्षता से एक समय में ही बहुत सटीकता से कर लेती हैं Artificial General Intelligence ( AGI ) से लैस होती हैं इसके कई उदाहरण हैं जैसे –

  • Manufacturing robots
  • Self-driving cars
  • social media monitoring
  • Disease mapping

3 Artificial Super Intelligence ( ASI ) क्या है ?

इसके बारे में अभी बहस जारी है कि मशीन को इतनी बुद्धिमत्ता देना क्या सही होगा जो वह मनुष्य के दिमाग की क्षमताओं से भी बहुत आगे हो और क्या ऐसा होने पर मशीने आगे आने वाले समय में इंसान पर ही राज करने लगें। हाँ जी, Artificial Super Intelligence में मशीन के पास तर्क सांगत निर्णय लेने और यहाँ तक की इंसान से बेहतर निर्णय लेने और भावात्मक संवेदनाएं भी शामिल होंगी।

Type 2 Artificial Intelligence

अगर हम Function के आधार पर बात करें तो इसे हम दो रूपों में समझा सकते हैं जैसे –

Reactive Memory

इन मशीनों को किसी विशेष कार्य करने के लिए ही प्रयोग में लाया जाता है। इसकी कोई भी पूर्व मेमोरी नहीं होती है यह AI का सबसे पुराना रूप है। इसकी कोई मेमोरी आधारित कार्य क्षमता नहीं होती है यह किसी विशेष कार्य को करने में ही सक्षम होते हैं। उदाहरण के लिए IBM का डीप ब्लू जिसने शतरंज के महान खिलाड़ी Gaarry Kasparov को हरा दिया था।

Limited Memory

इस श्रेणी में लगभग सभी AI Application आ जाती हैं इन्हे हम भविष्य के निर्णयों को प्रभावित करने के लिए Trained किया जाता है। इसमें AI System को एक बड़ी मात्रा के डेटा से Trained किया जाता है। उदाहरण के लिए आप Image Recognition का नाम ले सकते हैं।

Type 3 Artificial Intelligence

यह अभी सिर्फ Concept के रूप में ही हमारे सामने है और भविष्य में हमें इस प्रकार की Artificial इंटेलिजेंस देखने को मिलेगी। इसके कुछ उदाहरण है जैसे –

Theory of Mind

यह अभी भविष्य की है इसमें अभी बहुत से सुधार किये जा रहे हैं और लगातार शोध किये जा रहे हैं। इसके द्वारा हम लोगों की भावनाओं, ज़रुरत और विचारों को बेहतर ढंग से समझ सकते हैं। लेकिन इस स्तर तक पहुंचने के लिए अभी हमें समय और सतर्कता की ज़रुरत है।

Self- awareness

यह अभी काल्पनिक रूप में ही मौजूद है और अगर इसे हासिल कर लिया गया तो एक बहुत बड़ी उपलब्धि होगी इंसान की लेकिन इसके लिए हमें बहुत सोचने की ज़रुरत है और बहुत सतर्क रहना होगा।

Artificial intelligence के क्या फायदे हैं ? ( What are the advantages of Artificial intelligence in Hindi )

इसे अभी भविष्य की तकनीक कहा जाता है क्योंकि इसके दवरा इंसान की ज़िंदगी में क्रांतिकारी बदलाव हो जाएंगे और ज़िन्दी बहुत ही आसान हो जायेगी। Automobile, Communication, Health आदि क्षेत्रों में इसके द्वारा बहुत बड़ी क्रांति आने की सम्भावना है। आज हम इस पोस्ट पर इसके फायदे से ज्यादा इसके नुकसान पर फोकस करेंगे क्योंकि किसी भी चीज़ के जितने बड़े फायदे होते हैं तो ज़रा सी सावधानी हटते ही उसके उससे भी बड़े दुष्परिणाम सामने आते हैं तो आईये जानते हैं इससे होने वाले खतरे जो भविष्य में हमारे सामने आ सकते हैं।

Artificial intelligence के क्या नुकसान हैं ? ( What are the Disadvantages of Artificial intelligence in Hindi )

Artificial intelligence मिल जाने के बाद मशीने खुद अपना निर्णय खुद लेने की क्षमता से लैस हो जाएंगी क्या इस बात को पढ़कर आपके मन में डर जैसा कोई अनुभव नहीं हो रहा। क्या जब मशीने खुद ही अपना निर्णय अपने आप लेने में सक्षम हो जायेगी तो उनकी आपपर निर्भरता समाप्त हो जायेगी तो क्या यह हमारे लिए खतरनाक नहीं हो जाएगा क्या मशीने हमारे साथ पर्तिस्पर्धा शुरू नहीं कर देंगी। हम आपको एक Facebook का उदाहरण देते हैं।

Facebook टीम ने Artificial intelligence पर रिसर्च करते हुए दो bots बनाये लेकिन इन्होने बहुत ही आश्चर्यजनक रूप से आपस में ही कम्युनिकेट करना शुरू कर दिया और वह क्या बात करते थे यह टीम नहीं समझ पायी क्योंकि उन्होंने अपनी एक अलग Language का अविष्कार कर लिया जिसे लाख सर पटकने के बाद टीम कुछ भी नहीं समझ पायी और फिर टीम ने घबराकर उन्हे बंद कर दिया। अब यह तो भविष्य के गर्त में ही है कि आर्टिफिशल हमारे लिए अच्छे दिन लेकर आएगी या भविष्य में बुरे दिन।

बहुत अधिक लागत

AI के उपयोग के लिए हमें आवश्यक कंप्यूटिंग संसाधनों में तेज़ी के साथ वृद्धि करनी होगी जिससे ऑपरेशन की लागत काफी बढ़ जायेगी। मतलब AI एक बहुत महंगा साधन है और इसे आगे बढ़ाने के लिए बहुत बड़े पैमाने पर काम करना होगा जिसमे बहुत लागत आने वाली है।

मशीनों पर बहुत अधिक निर्भरता

हम इस प्रकार की machines पर इस कदर depend हो जाएंगे की वह हमारे लिए एक खतरनाक स्तिथि होगी। हम आज भी SIRI और ALEXA पर बहुत ज्यादा निर्भर हो गए हैं जोकि ऍप्लिकेशन्स ही हैं अब आप खुद ही सोच लीजिये अगर हमें कल इस प्रकार की मशीने मिल जाए जो हमारी आवश्यकताओं को खुद अपने आप समझकर हमारी सेवा में 24 घंटे तैयार रहें तो हम किस कदर उनपर निर्भर हो जाएंगे और यह निर्भरता हमारे दिमागी स्टार पर भी हमें कमज़ोर बना देगी।

इंसानों की नक़ल से दूर

देखा जाए तो बुद्धिमत्ता एक प्राकृतिक उपहार है और हम शायद इसकी बराबरी नहीं कर सकते। जहाँ तक मशीनों का सवाल है तो मशीनों में बुद्धिमत्ता नहीं पायी जाती है न उनमे कोई भावनाओं का स्थान होता है और न ही कोई नैतिक मूल्यों को वह समझती हैं वह शायद ही कभी इस लायक बन पाएं जो सही भावनाओं के आधार पर सही और गलत का निर्णय कर सकें। इसलिए इन्हें कभी मालूम नहीं चल पायेगा कि कब वह गलत हाथों में हैं और कब सही जो मनुष्य के लिए एक बहुत खतरनाक स्तिथि होगी।

आप लोगो का Artificial Intelligence के बारे में क्या विचार में कमेंट करके जरूर बताये और हमारे साथ जुड़ने के लिए हमारे FACEBOOK PAGE को फॉलो करें।

QUES: Artificial technology क्या है ?

ANS: इस technology में मशीनों को Artificial intelligence देकर उन्हें इस तरह से उन्नत किया जाता है कि वह इंसान कि तरह सोच सकें और काम कर सकें।

QUES: Artificial intelligence में किस कंप्यूटर भाषा का प्रयोग होता है ?

ANS: इसके लिए PROLOG भाषा का प्रयोग किया जाता है लेकिन इसके अलावा भी और भी भाषाएँ हैं जिनका उपयोग इसके लिए किया जाता है जैसे – IPL, Smalltalk, Strips, Planner आदि ।

QUES: क्या Artificial intelligence हमारे लिए खतरनाक भी हो सकती है ?

ANS: हाँ , ऐसा हो सकता है यदि हम पूरी तरह से मशीन पर निर्भर हो जाएंगे तो इसके खतरनाक परिणाम भी सामने आ सकते हैं जिसके लिए हमें पहले से ही सचेत रहना होगा।

QUES: क्या फेसबुक टीम का Artificial intelligence पर रिसर्च कुछ डरावना रहा ?

ANS: हाँ , ऐसा जब हुआ जब टीम ने दो बोट्स बनाये और वह अपनी नयी भाषा बनाकर आपस में बात करने लगे जो टीम नहीं समझ पायी। यह प्रयोग टीम के लिए डरावना रहा और उन्होंने इन्हे तुरंत निष्क्रय कर दिया।

QUES: Artificial intelligence का प्रयोग आज हम किन-किन क्षेत्र में कर रहे हैं ?

ANS: चिकित्सा, शिक्षा, विमानन, कंप्यूटर विज्ञानं, वित्त, भारी उद्योग, सरकार द्वारा आदि कुछ क्षेत्र हैं जहाँ आज इसका सफल प्रयोग हो रहा है।

QUES: क्या कंप्यूटर मनुष्य से अधिक बुद्धिमान है ?

ANS: कंप्यूटर बहुत बुद्धिमान है लेकिन मनुष्य के सामान नहीं। कंप्यूटर केवल वही कार्य कर सकता है जिसे एक से अधिक बार किया जा सकता है वह ऐसा कोई कार्य नहीं कर सकता है जो अचानक पहली बार करना हो।

QUES: कंप्यूटर अशुध्दि को क्या कहते हैं ?

ANS: कंप्यूटर अशुध्दि को बग ( bug ) कहा जाता है।

Hello, everyone Myself Anmol Mishra I'm from Rampur Uttar Pradesh. Welcome to our blog Tourkro Here we will provide you only interesting and original content, which you will like very much.

1 thought on “Artificial Intelligence (AI) क्या है? What Is Artificial Intelligence In Hindi #2021”

Leave a Reply

Share via
Copy link
Powered by Social Snap
%d bloggers like this: