Wonderful! विज्ञान के पास भी नहीं हैं इन 10 बड़े सवालों के जवाब, ज़रूर जाने आप भी

आज हम विज्ञान की प्रगति देखकर बहुत ज्यादा ज्यादा खुश होते हैं और होना भी चाहिए क्योंकि विज्ञान ने ही हमें इतना आधुनिक बनाया भी है लेकिन फिर भी आज अगर हम कहें कि विज्ञान हमें सारे सवालों के जवाब दे सकती है, तो ऐसा नहीं है।

भले ही विज्ञान ने हमें आज चाँद पर पहुंचा दिया लेकिन कई आज भी ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब देने में विज्ञान आज भी लाचार है। आइये जानते हैं ऐसे ही कुछ सवाल जिनके जवाब आज भी नहीं मिल पाए हैं।

विज्ञान के पास भी नहीं हैं इन 10 बड़े सवालों के जवाब

1- क्या ईश्वर का अस्तित्व है?

यह दुनिया जिस प्रकार व्यवस्थित ढंग से बनायी गयी है उसे देखकर ऐसा लगता है कि इसे बहुत ही सोच समझकर बनाया गया है हर चीज को बहुत ही व्यवस्थित ढंग से, अगर आप ध्यान से सोचें तो सूर्य से पृथ्वी के बीच की दूरी, पृथ्वी का उपग्रह चन्द्रमा देखा जाए सब कुछ इतनी सटीकता से है की यह मानने को दिल करता ही नहीं कि यह सब अपने आप ही हुआ है।

बस तभी ईश्वर की बात सामने आती है और कहा जाता है कि उसने ही सब कुछ बनाया है आज भी वैज्ञानिकों में इस बात को लेकर मतभेद हैं और बहुत से वैज्ञानिक ईश्वर जैसी किसी सत्ता को मानते हैं। लेकिन कौन है वह ईश्वर, और क्यों, उसने यह सब कुछ बनाया है इस सवाल को आज तक हमारी साइंस नहीं समझ पायी।

2- क्या हम ब्रह्माण्ड में अकेले हैं?

विज्ञान इस गुत्थी को कब से सुलझाने में लगा हुआ है लेकिन उसे आज तक इसमें कुछ भी सफलता नहीं मिली है। हमारे सौर मंडल में ही न जाने कितने ऐसे स्थान हैं जहाँ जीवन होने की सम्भावना है और अगर ब्रह्माण्ड की बात करें तो अरबों खरबों तारे और फिर उससे कई गुना उनके ग्रह और फिर उससे भी कई गुना उनके उपग्रह हैं।

जीवन तो छुद्र ग्रहों में भी पाया जा सकता है तो छुद्र ग्रह कितने हैं? मनुष्य की कल्पना से भी बाहर हैं, तो कैसे मान लिया जाए की जीवन सिर्फ पृथ्वी पर ही होगा। लेकिन विज्ञान यहाँ भी अभी तक लाचार है और अभी पृथ्वी के बाहर कैसा जीवन होगा और कहाँ होगा इस सब से पूरी तरह अनजान है।

3- ब्रह्माण्ड किन चीज़ों से बना है?

हम अपनी आँखों से जो मेटेरियल देखते हैं वह सब एटम से बना होता है लेकिन हम आपको बता दें, पूरे ब्रह्माण्ड में एटम से बना हुआ मेटेरियल मात्र 5 प्रतिशत से भी कम है तो फिर बाकी 95 प्रतिशत क्या है? यह सब अभी साइंस नहीं बता पाया है।

हाँ, कुछ प्रयोगो द्वारा यह ज़रूर समझ में आया है कि डार्क मेटर और डार्क एनर्जी का बजूद इस ब्रह्माण्ड में है जिसमे डार्क मेटर तारों या ग्लेक्सियों को आपस में बांधे रहता है और डार्क एनर्जी ब्रह्मण्ड के फैलाव के लिए जिम्मेदार है लेकिन यह क्या हैं किस चीज के बने हैं यह विज्ञान कुछ नहीं जानता।

4- चेतना क्या है और कैसे काम करती है?

हम जीवित हैं और सोचते हैं, समझते हैं अपने आस-पास के वातावरण को समझते हैं, क्या हमारे लिए सही है क्या गलत है, एक दुसरे से बातें कर सकते हैं यह सब चेतना के द्वारा ही संभव है। जब किसी भी जीव से चेतना चली जाती है तो वह इस प्रकार के सारे कार्य बंद कर देता है तो सवाल उठता है कि आखिर क्या है यह चेतना और कहाँ से आती है और कहाँ चली जाती है और किस प्रकार काम करती है इन सारे सवालों का जवाब आज भी वैज्ञानिकों के पास नहीं है।

5- सपने क्यों आते हैं?

नींद में सपने तो आपने भी बहुत देखे होंगे और अब भी देखते होंगे लेकिन यह सपने हमें क्यों आते हैं और शरीर में इसका क्या रोल है विज्ञान आज तक नहीं समझ पाया है। वैज्ञानिक यह तो बताते हैं कि सोते समय जब हमारे नर्व सेल्स इलेक्ट्रिक सिग्नल्स का आदान-प्रदान करते हैं तो हमें सपने आते हैं लेकिन यह क्यों इतने विचित्र होते हैं और जो चीजें हम सपने में देखते हैं क्या उनका मतलब होता है और हमें क्यों दिखाई देती हैं विज्ञान के पास कोई भी जवाब नहीं है।

6- क्या भूत होते हैं?

आज अगर आप नेट पर इस बारे में सर्च करें तो आपको न जाने भूतों कि कितनी ही तस्वीरें और वीडिओज़ मिल जाएंगे और आप आय-दिन अपने आस-पास भी भूतों के बारे में काफी कुछ सुनते रहते होंगे और कई लोग तो ऐसे भी होंगे जो यह कहेंगे कि हमने खुद अपनी आँखों से भूत को देखा है।

विज्ञान आज तक नहीं समझ पायी है कि क्या सच में भूत होते हैं, हालांकि आज कई सारे ऐसे यंत्र बन चुके हैं जो भूतों की उपस्तिथि को दर्ज कर सकें लेकिन फिर भी विज्ञान यहाँ पर भी बीच रह में कड़ी हुई है वह न तो इसे बिलकुल ही मना कर सकती है और न ही इसका समर्थन कर पाती है। अगर आपने भी कभी भूत देखा हो कृपया कमेंट करके अवश्य बताएं।

7- ब्लैक होल के दूसरी तरफ क्या है ?

आपने ब्लैक होल के बारे में तो ज़रूर ही पड़ा और सुना होगा यह ब्रह्माण्ड में ऐसे पिंड हैं जिनका गुरत्वाकर्षण इस कदर ज़बरदस्त होता है कि यह अपने अंदर से प्रकाश को भी बाहर नहीं आने देते इसलिए यह अदृश्य होते हैं। अगर ब्लैक होल के रास्ते में कुछ भी आ जाए तो यह उसे निगल जाता है लेकिन इतना सब मेटेरियल जाता कहाँ है यह वैज्ञानिक नहीं समझ पाए हैं।

कुछ वैज्ञानिक ऐसा भी मानते हैं कि ब्लैक होल का दूसरा सिरा किसी दुसरे ब्रह्माण्ड में खुलता है और यह एक ब्रह्माण्ड से दुसरे ब्रह्माण्ड में जाने का रास्ता हो सकता है। लेकिन अभी तो यह भी नहीं पता क्या इस ब्रह्माण्ड के अलावा भी और बहुत से ब्रह्माण्ड हैं इस पर विज्ञान अभी सिर ही पटक रहा है।

8- मरने के बाद क्या होता है?

अगर हम धार्मिक मान्यताओं की बात करें तो तो वह इस बात में यकीन रखते हैं कि जब इंसान का समय पूरा हो जाता है तो उसकी मृत्यु हो जाती है और उसकी आत्मा शरीर को छोड़कर उस ईश्वर के पास चली जाती है तो किसी के अनुसार अपने शरीर में रहकर किये गए कर्मों का फल भोगती है यानी स्वर्ग और नरक भोगती है।

कई सारे धर्म पुनर्जन्म को मानते हैं कि एक शरीर में समय पूरा हो जाने के बाद आत्मा दुसरे नए शरीर में चली जाती है।और ऐसे किस्से भी आपने सुने होंगे जिन्होंने दुबारा जन्म लिया और हो सकता है कोई न कोई आपकी जानकारी में भी ऐसा हो लेकिन आज तक इसके कोई पुख्ता प्रमाण नहीं मिल पाए हैं। लेकिन असल में मरने के बाद होता क्या है विज्ञान इसे नहीं समझ पाया है।

9- पृथ्वी पर जीवन कहाँ से आया?

यह एक बहुत बड़ा सवाल है कि पृथ्वी पर आखिर जीवन आया कहाँ से, इसके लिए वैज्ञानिकों ने कई साड़ी थ्योरीज दी हैं जिसमें कुछ वैज्ञानिक यह भी मानते हैं कि पृथ्वी पर जीवन किसी धूमकेतु के कुछ टुकड़ों के गिरने से आया तो इसका मतलब तो साफ़ है कि ऐसे टुकड़े कहाँ और भी गिरे होंगे और वहां भी जीवन होना चाहिए लेकिन अभी तक पृथ्वी के अलावा हमें कहाँ भी जीवन नहीं मिला है।

और सवाल यह भी है कि उस धूमकेतु पर जीवन के वह लक्षण कहाँ से आये। इससे तो इस बात को और ज्यादा बल मिलता है कि इस ब्रह्माण्ड में जीवन पृथ्वी के अलावा भी और बहुत सारी जगह पर है। ऐसे ही सवालों के लिए रात-दिन वैज्ञानिक लगे हुए हैं लेकिन आज तो विज्ञान के पास इन सवालों का जवाब नहीं है।

10- बिग-बैंग से पहले क्या था?

विज्ञान के द्वारा आज यह सिद्ध हुआ है कि आज से लगभग 14 अरब साल पहले पूरा ब्रह्माण्ड एक अति सूक्ष्म बिन्दु के रूप में था और फिर किसी कारण उसमे विस्फोट हुआ जिसे बिग- बैंग बोलते हैं,और उसके बाद आज तक ब्रह्माण्ड का निर्माण लगातार चलता ही जा रहा है यानी ब्रह्माण्ड लगातार तेज और तेज फैलता ही जा रहा है।

*तो सवाल यह है कि वह बिन्दु कहाँ से आया और उसमे क्या ऐसा घटा जिससे उसमे इतना भयंकर विस्फोट हुआ और सबसे बड़ा सवाल उससे पहले क्या था और कैसे था? शायद इस सवाल का जवाब आने वाले एक लम्बे समय तक या शायद कभी मिले ही न।

दोस्तों, हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें अगर आपके पास इसमें से किसी भी सवाल का जवाब हो या आप इन सवालों को लेकर क्या सोचते हैं हमें कमैंट्स के द्वारा ज़रूर बताएं। हमारी पोस्ट के बारे में सुझाव और आपके बहुमूल्य कमैंट्स का हमें हमेशा ही इंतज़ार रहता है। हमारे इस ब्लॉग में आपका हमेशा स्वागत है कृपया हमारा मार्गदर्शन करते रहें। धन्यवाद

Hello, everyone Myself Anmol Mishra I'm from Rampur Uttar Pradesh. Welcome to our blog Tourkro Here we will provide you only interesting and original content, which you will like very much.

Leave a Reply

Share via
Copy link
Powered by Social Snap
%d bloggers like this: